कुपोषण खत्म करने में सक्रिय होकर काम करें

Spread the love

 

– मुख्यमंत्री के भाषण का लाइव प्रसारण हुआ

– मानदेय बढ़ोत्तरी से आंगनबाड़ी और सहायिकाओं में खुशी की लहर

चित्रकूट। सीतापुर स्थित भजन संध्या में आयोजित आंगनवाड़ी कार्यकत्री और सहायिका सम्मेलन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के उद्बोधन का लाइव प्रसारण दिखाया गया। इसके बाद समारोह में मौजूद लोनिवि राज्यमंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय, सांसद आरके पटेल, जिला पंचायत अध्यक्ष अशोक जाटव और जिलाधिकारी शुभ्रांत कुमार शुक्ला ने आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों और सहायिकाओं को संबोधित किया।

राज्यमंत्री लोक निर्माण विभाग चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को नव वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज मुख्यमंत्री ने आप लोगों का मानदेय बढ़ाया है। आप लोगों ने कोरोना काल में प्रशंसनीय कार्य किया है जिसकी मुख्यमंत्री ने विधानसभा सत्र में भी प्रशंसा किया था। अब  आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को प्रतिमाह 8 हजार रुपए, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को 6500 रुपए एवं सहायिकाओं को 4 हजार रुपए दिया जाएगा। उन्होंने कहा की कोरोना के तीसरी लहर की संभावना को देखते हुए भी आप लोग सतर्क रहकर कार्य करें। आप लोगों को जिन बिंदुओं पर कार्य करने को बताया गया है उसी के अनुरूप कार्य करें। आज प्रत्येक जिले में यह कार्यक्रम मनाया जा रहा है। सरकार ने आपके कार्य को समझा है और आप लोगों की सेवाओं पर सम्मानित करने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार ने महिलाओं के कल्याण के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित किया है, चाहे वह मिशन शक्ति हो या कन्या सुमंगला योजना, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना हो। समाज में जब तक नारी का सम्मान नहीं होगा तो विकास संभव नहीं है।
सांसद आर के पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री देश- प्रदेश को कुपोषण मुक्त बनाना चाहते हैं। पहले हमारे देश में बच्चों की मृत्यु दर बहुत ज्यादा थी जिसे आज कंट्रोल किया गया है अभी पूर्ण रुप से कंट्रोल करने की जरूरत है जिसके लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। इसी उद्देश्य से पूरे देश में आंगनबाड़ी केंद्रों की स्थापना की गई है। आप लोगों के प्रयास से समाज में जागरूकता आयी है, आज अस्पतालों में प्रसव कराया जा रहा है इसलिए अब मृत्यु दर में कमी आई है। जागरूकता के कारण अब लोग एक व दो बच्चे ही पैदा करते हैं जबकि पहले ऐसा नहीं था। उन्होंने कहा कि एएनएम, आंगनवाड़ी और आशा की गांव में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। सरकार ने आप लोगों के काम को देखते हुए आपका मानदेय बढ़ाया है। कहा कि बच्चें स्वस्थ रहें इसके लिए गर्भवती महिलाओं की जांच लगातार कराते रहें।
अध्यक्ष जिला पंचायत अशोक जाटव ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों से अपील की कि शासकीय योजनाओं का लाभ गांव के गरीब तबके के लोगों को दिलाने में अपना योगदान दें। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों का रवैया कैसा था यह सभी लोगों ने देखा है। हमारी सरकार ने नारियों के लिए विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाएं संचालित की हैं।
जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कुपोषण मुक्त भारत का संकल्प लिया है इस दिशा में प्रयास तेजी से हो रहे है और आप कार्य कर रही हैं, संसाधन का कोई अभाव नहीं है आपसे अपेक्षा है कि कुपोषण मुक्त भारत, स्वस्थ जनपद, प्रदेश बनाने में सक्रिय भूमिका निभाएं। कहा कि आज सभी के लिए आवास का सपना साकार हो चुका है, स्वच्छ शौचालय भी उपलब्ध कराए गए हैं, हर घर नल की  व्यवस्था की जा रही है, मुफ्त में अनाज दिया जा रहा है। सबका स्वास्थ्य अच्छा रहे इसके लिए आप लोगों को सक्रिय होकर काम करना है।
कार्यक्रम के दौरान जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास मनोज कुमार ने आए हुए अतिथियों का तथा आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का आभार व्यक्त किया। संचालन बाल विकास परियोजना अधिकारी शहर बीएल गुप्ता ने किया।
इस अवसर पर सांसद प्रतिनिधि शक्ति प्रताप सिंह तोमर, भारतीय जनता पार्टी के जिला उपाध्यक्ष पंकज अग्रवाल, राज कुमार त्रिपाठी सहित अन्य जनप्रतिनिधि, बाल विकास परियोजना अधिकारी पी डी विश्वकर्मा, पहाड़ी महेंद्र कुमार, रामनगर वीरेंद्र कुशवाहा सहित संबंधित अधिकारी आंगनबाड़ी कार्यकत्री/ सहायिका मौजूद रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!